Tips

मुंहासों के लिए एलोवेरा के फायदे – Aloe Vera for Acne in Hindi

एलोवेरा के फायदे भला कौन नहीं जानता होगा। बात की जाए सुंदरता की, तो एलोवेरा का नाम सबसे पहले आता है। यही कारण है कि आज बाजार में भी एलोवेरा से बने कई सौंदर्य उत्पाद जैसे क्रीम, फेसवॉश व शैंपू आदि मौजूद हैं, जिनका उपयोग लोग बेझिझक कर रहे हैं। वहीं, अगर बात करें कील-मुंहासों की, तो मुंहासों के लिए एलोवेरा काफी कारगर साबित होता है। इसका नियमित रूप से इस्तेमाल करने से मुंहासों को जड़ से खत्म करने में मदद मिलती है और त्वचा बेदाग व खूबसूरत हो जाती है।

आपको बता दें कि प्राचीन यूनान और रोम में घाव पर, कटने पर और सूजन के इलाज के लिए एलोवेरा का उपयोग किया जाता था। इसके अलावा, यह भी माना जाता है कि मिस्र की रानी क्लियोपेट्रा अपनी सुदंरता को बढ़ाने के लिए एलोवेरा जेल का इस्तेमाल करती थी। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम आपको पिम्पल्स के लिए एलोवेरा के उपाय बताएंगे। इन उपायों को अपनाकर आपकी त्वचा न सिर्फ मुंहासे रहित होगी, बल्कि जवां और खूबसूरत नजर आएगी।

  • क्या एलोवेरा कील-मुंहासे दूर करने में मददगार है? – Is Aloe Vera Good For Acne in Hindi?
  • कील-मुहांसों के लिए एलोवेरा का इस्तेमाल कैसे करें – How to Use Aloe Vera for Acne in Hindi
  • सावधानी
  • एलोवेरा से मुंहासे दूर होने में कितना समय लगता है?

.tocnew a#toc#toc ul#toc ul li#toc ul li a:not:first-child#toc ul li a#toc ul li > ul > li #toc ul li ul ul > li #toc ul li ul ul ul >li

सबसे पहले जानते हैं कि एलोवेरा किस तरह से मुंहासों को ठीक करता है।

क्या एलोवेरा कील-मुंहासे दूर करने में मददगार है? – Is Aloe Vera Good For Acne in Hindi?

  • एलोवेरा में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल गुण कील-मुंहासों और इनके कारण चेहरे पर पड़े लाल निशानों को कम करने में मदद करते हैं। यह मुंहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया से बचाता है। इसके एंटीफंगल गुण त्वचा पर फोड़े और अल्सर के इलाज में उपयोगी होते हैं।
  • इसमें मौजूद मैग्नीशियम लैक्टेट मुंहासों के कारण जलन और खुजली को कम करने में मदद करता है। यह त्वचा पर चकत्ते और सनबर्न से राहत दिलाने में मदद करता है।
  • एलोवेरा में एस्ट्रिंजेंट गुण भी होते हैं, जो त्वचा से अतिरिक्त तेल और धूल को हटाकर मुंहासों से बचाते हैं। इसके अलावा, यह मुंहासों को छोटा करता है और इसके कारण हुए दर्द को कम करने में मदद करता है।
  • एलोवेरा न सिर्फ मुंहासे दूर करता है, बल्कि यह मुहांसों के निशान हटाने में भी मदद करता है और नई त्वचा का निर्माण करता है। इसमें मौजूद एन्थ्राक्विनोन त्वचा की कोशिका विकास को बढ़ाता है और एक नई त्वचा का निर्माण करता है। यह कील-मुंहासे दूर करके त्वचा को जवां बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
  • यह मुंहासे के कारण होने वाले दाग और धब्बों के निशान को कम करने के लिए त्वचा की झाइयों को भी हल्का करता है।
  • एलोवेरा में जिबरेलिन, मैनान और पॉलीसैकेराइड जैसे सैपोनिन होते हैं, जो मुंहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया और वायरस को मारते हैं। साथ ही ये प्रोपियोबैक्टीरियम को भी खत्म करते हैं, जो गंभीर मुंहासे का कारण बनता है। इसमें सैलिसिलिक एसिड भी होता है, जो छिद्रों को बंद कर त्वचा से मुंहासे, ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स को खत्म करता है। यह त्वचा के पीएच संतुलन को बनाए रखने में भी मदद करता है।
  • त्वचा में गंदगी के जमा होने से रोम छिद्र बंद हो जाते हैं, जिससे संक्रमण और ब्लैकहेड्स हो सकते हैं। चेहरे पर इस जेल का नियमित रूप से उपयोग छिद्रों को कसता है, जिससे कीटाणु दूर रहते हैं।

एलोवेरा जेल और जूस के ये सभी फायदे वैज्ञानिक रूप से अध्ययन करके बताए गए हैं (1, 2)।

कील-मुहांसों के लिए एलोवेरा का इस्तेमाल कैसे करें – How to Use Aloe Vera for Acne in Hindi

कील-मुहांसों को दूर करने के लिए ढेरों तरीके हैं। जानिए मुंहासों के लिए एलोवेरा के इन तरीकों के बारे में :

1. शहद और एलोवेरा

सामग्री

  • एक चम्मच एलोवेरा जेल
  • एक चम्मच शहद
  • दो चम्मच गुलाब जल

कैसे तैयारी करें?

एलोवेरा जेल, शहद और गुलाब जल को मिलाकर पेस्ट बना लें। आप चाहें तो अधिक निखार लाने के लिए इसमें एक चुटकी हल्दी भी मिला सकते हैं।

कैसे लगाएं?

  • इस पेस्ट को मुंहासों वाले भाग पर लगाएं और 20 मिटन बाद चेहरा धो लें।
  • मुंहासों से राहत पाने के लिए इस मास्क को अपने चेहरे पर सप्ताह में तीन बार लगाएं।

यह कैसे काम करता है?

शहद में एंटीबैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। यह त्वचा को हाइड्रेट कर अतिरिक्त तेल आने से रोकता है। इसमें क्लींजिंग गुण भी होते हैं, जो मुंहासों के साथ-साथ अन्य त्वचा संबंधी समस्या को दूर करने में मदद करते हैं (three)।

2. एलोवेरा और नींबू

सामग्री

  • एक से दो चम्मच एलोवेरा जेल
  • नींबू के रस की कुछ बूंदें

कैसे तैयार करें?

  • एलोवेरा जेल में नींबू का रस मिलाकर पेस्ट बना लें।

कैसे लगाएं?

  • इस मास्क को अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं और रात भर तक लगा रहने दें।
  • अगर आपको चिपचिपाहट लगे, तो करीब एक घंटे बाद चेहरा धो लें।
  • आप इस प्रक्रिया को रोजाना तब तक दोहराएं, जब तक मुंहासे कम न हो जाएं।

यह कैसे काम करता है?

नींबू और एलोवेरा जेल के जीवाणुरोधी गुण मुंहासों को कम करने में मदद करते हैं और इसे फैलने से रोकते हैं। नींबू का रस आपकी त्वचा को साफ और शुद्ध करता है। इसके अलावा, यह त्वचा के छिद्रों को भी कसने में मदद करता है (four)।

सावधानी

अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो नींबू के रस की जगह टमाटर के रस का इस्तेमाल करें।

three. पिम्पल्स के लिए एलोवेरा और हल्दी

सामग्री

  • एक से दो चम्मच एलोवेरा जेल
  • एक से दो चम्मच हल्दी पाउडर
  • एक चम्मच बेसन

कैसे तैयार करें?

  • सभी सामग्रियों को मिलाकर पेस्ट बना लें। अगर यह ज्यादा गाढ़ा है, तो इसमें पानी की कुछ बूंदें मिला सकते हैं।

कैसे लगाएं?

  • इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं और 15-20 मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें।
  • फिर पानी से चेहरा धो लें।
  • इस प्रक्रिया को सप्ताह में दो बार दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

हल्दी एक शक्तिशाली जड़ी बूटी है, जो मुंहासे का इलाज करती है। इसके एंटीमाइक्रोबियल गुण बैक्टीरिया को मारते हैं। वहीं, इसके एंटीइंफ्लेमेटरी गुण सूजन को कम करते हैं। इसके अलावा, इसके एंटीऑक्सीडेंट तत्व मुंहासों को ठीक करते हैं और उसके निशानों को त्वचा से खत्म करते हैं (5)।

सावधानी

हल्दी से आपकी त्वचा पर निशान पड़ सकते हैं, इसलिए इसके पीलेपन को चेहरे से दूर करने के लिए त्वचा पर नींबू रगड़ सकते हैं।

four. टी-ट्री ऑयल और एलोवेरा

सामग्री

  • दो से तीन चम्मच एलोवेरा जेल
  • तीन से चार बूंद टी-ट्री ऑयल

कैसे तैयारी करें?

  • एलोवेरा जेल में टी-ट्री ऑयल अच्छी तरह मिला लें।

कैसे लगाएं?

  • इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाकर रात भर के लिए छोड़ दें।
  • फिर अगली सुबह चेहरा धो लें।
  • आप इस प्रक्रिया को रोजाना तब तक दोहराएं, जब तक मुंहासे दूर न हो जाएं।

यह कैसे काम करता है?

टी-ट्री ऑयल में एंटीमाइक्रोबियल गुण हैं, जो त्वचा पर मौजूद बैक्टीरिया को मारते हैं। इसके अलावा, इसमें एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो चेहरे से सूजन को दूर करते हैं। यह चेहरे के सीबम (तेल) को भी नियंत्रित करता है (6)।

सावधानी

संवेदनशील त्वचा पर टी-ट्री ऑयल रैशेज पैदा कर सकता है। इसलिए, चेहरे पर इस्तेमाल करने से पहले एक बार आप पैच टेस्ट (हाथ की त्वचा पर लगाकर देखना) कर लें।

5. पिम्पल्स के लिए एलोवेरा जेल और बेबी ऑयल

सामग्री

  • एक से दो चम्मच एलोवेरा जेल
  • कुछ बूंद बेबी ऑयल

कैसे तैयार करें?

  • सभी सामग्रियों को मिला लें।

कैसे लगाएं?

  • ऊपर बताए गए मिश्रण को मुंहासे वाले भाग पर लगाएं।
  • इसे अपने चेहरे पर एक घंटे तक लगा रहने दें और फिर गुनगुने पानी से मुंह धो लें।
  • इस प्रक्रिया को आप रोजाना दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

बेबी ऑयल एक तरह का मिनरल ऑयल है, जिसमें विटामिन-ई होता है। यह त्वचा को हाइड्रेट रख, इसे स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है (7,eight)। इसे संतुलित मात्रा में चेहरे पर लगाने से मुंहासे कम होने लगते हैं।

6. एलोवेरा जेल और विटामिन-ई

सामग्री

  • एक चम्मच एलोवेरा जेल
  • एक विटामिन-ई का कैप्सूल

कैसे तैयार करें?

विटामिन-ई के कैप्सूल में सुराख करके तेल को निकालें और एलोवेरा जेल में अच्छी तरह मिला लें।

कैसे लगाएं?

  • इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं और सूखने दें।
  • एक घंटे बाद चेहरा धो लें। आप चाहें तो इसे रात भर लगाकर छोड़ सकते हैं।
  • इस प्रक्रिया को आप रोजाना रात को तब तक दोहराएं, जब तक असर न दिखे।

यह कैसे काम करता है?

विटमान-ई ऑयल में एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जिस कारण इसका इस्तेमाल सौंदर्य उत्पादों में भी किया जाता है। यह न केवल मुंहासों को ठीक करने में मदद करता है, बल्कि आपकी त्वचा को भी स्वस्थ रखता है (9, 10)।

7. सेब का सिरका और एलोवेरा

सामग्री

  • एक चम्मच एलोवेरा जेल
  • आधा चम्मच सेब का सिरका
  • आधा चम्मच पानी

कैसे तैयार करें?

  • सभी सामग्रियों को अच्छी तरह मिला लें।

कैसे लगाएं?

  • आप इस मिश्रण को उंगलियों या रूई की मदद से अपने पूरे चेहरे पर लगाएं।
  • इसे 15 से 20 मिनट तक लगा छोड़ दें और फिर पानी से चेहरा धो लें।

यह कैसे काम करता है?

सेब के सिरके में मैलिक एसिड होता है, जो त्वचा पर एस्ट्रिंजेंट का काम करता है। यह सभी बैक्टीरिया को हटाता है और त्वचा के पीएच को सामान्य स्तर पर लाता है। यह मृत त्वचा कोशिकाओं को भी एक्सफोलिएट करता है (11)।

सावधानी

जिनकी त्वचा को सेब का सिरका सूट न करता हो, वो इसका इस्तेमाल न करे।

eight. एलोवेरा, दूध और शुगर मास्क

सामग्री

  • एक चम्मच चीनी
  • आधा चम्मच दूध
  • दो चम्मच एलोवेरा जेल

कैसे तैयार करें?

  • दूध में चीनी डालकर उसे अच्छी तरह घोल लें। फिर इसमें एलोवेरा जेल डालकर अच्छे से मिलाएं।

कैसे लगाएं?

  • इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाकर 20 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर गुनगुने पानी से चेहरे को धो लें।
  • आप इस प्रक्रिया को रोजाना दोहराएं।

यह कैसे काम करता है?

दूध त्वचा को कोमल बनाता है और साथ ही उसे साफ रख हाइड्रेट रखता है (12)। यह त्वचा से अतिरिक्त तेल भी हटाता है। वहीं, शुगर में ग्लाइकोलिक एसिड होता है, जो कोशिकाओं को फायदा पहुंचाता है (13)।

सावधानी

अगर आपको दूध से एलर्जी है, तो इस प्रक्रिया को न अपनाएं।

9. एलोवेरा और कॉस्मेटिक क्ले

सामग्री

  • एक चम्मच एलोवेरा जेल या एलोवेरा का जूस
  • एक चम्मच कॉस्मेटिक क्ले (सफेद या गुलाबी)

कैसे तैयार करें?

  • क्ले पाउडर में एलोवेरा जेल को अच्छी तरह मिलाकर पेस्ट बना लें।

कैसे लगाएं?

  • प्रभावित क्षेत्र पर इस पेस्ट की पतली परत लगाकर 15 से 20 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद चेहरा पानी से धो लें।
  • इस मास्क को आप सप्ताह में दो बार लगा सकते हैं।

यह कैसे काम करता है?

कॉस्मेटिक क्ले में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं (14)। खासतौर पर तैलीय त्वचा के लिए यह एस्ट्रिंजेंट के रूप में भी काम करती है (15)।

सावधानी

अगर आपने पहले कभी क्ले का इस्तेमाल नहीं किया है, तो पहले थोड़ी-सी क्ले हाथ पर लगाकर यह जांच लें कि कहीं इससे आपको एलर्जी तो नहीं हो रही। अगर आपको थोड़ी-सी भी जलन का अहसास हो, तो इसे चेहरे पर न लगाएं।
इसके अलावा, आप एलोवेरा के इन फेस पैक को लगाने के बाद एलोवेरा साबुन से मुंह भी धो सकते हैं। इससे मुंहासे जल्दी दूर होने में मदद मिलेगी, लेकिन ध्यान रहे कि इस साबुन में ग्लिसरीन हो, ताकि त्वचा रूखी न हो जाए।

एलोवेरा से मुंहासे दूर होने में कितना समय लगता है?

मुंहासों पर एलोवेरा का नियमित रूप से सेवन करने पर आपको कुछ ही दिनों में फर्क नजर आने लगेगा। आप दो से तीन सप्ताह के भीतर फर्क देख पाएंगे।

एलोवेरा न सिर्फ आपके मुंहासे ठीक करने में मदद करता है, बल्कि इनसे पड़े निशान व सूजन को भी कम करता है। इसका नियमित इस्तेमाल भविष्य में मुंहासे होने से बचाता है। फिर देर किस बात की, मुंहासों से राहत पाने के लिए ऊपर बताए गए तरीकों का इस्तेमाल करें और पाएं सुंदर बेदाग त्वचा। साथ ही यह लेख उनके साथ शेयर करना न भूलें, जो मुंहासों के कारण परेशान हैं।

संबंधित आलेख

The publish मुंहासों के लिए एलोवेरा के फायदे – Aloe Vera for Acne in Hindi appeared first on PrimeBeautySecrets and techniques.org.

Leave a Comment