Tips

घुंघराले बालों की देखभाल करने के 8 सबसे कारगर उपाय – Simple And Effective Tips for Permed Hair in Hindi

शरीर की खूबसूरती बढ़ाने में बालों का अहम योगदान होता है। किसी के बाल लंबे और घने होते हैं, तो किसी के घुंघराले या फिर छोटे। भले ही आप जितने भी सज-धज लें, लेकिन बिना बालों को संवारे व्यक्तित्व में निखार नहीं आता। इसलिए, बालों के स्टाइल से लेकर उनका रखरखाव काफी मायने रखता है। महिलाओं के पास बालों को लेकर कई विकल्प मौजूद हैं, वे आसानी से अपने बाल कभी भी सीधा और घुंघराले करा सकती हैं। वैसे सीधे बालों की तुलना में घुंघराले बालों का ध्यान रखने में ज्यादा दिक्कत आती है।

अगर आपने हाल ही में अपने बालों को घुंघराला कराया है और उनके रखरखाव के लिए आसान टिप्स की खोज में हैं, तो आप सही जगह आए हैं। इस लेख में हमारे साथ जानिए अस्थाई घुंघराले बालों का संपूर्ण ध्यान रखने के सबसे कारगर उपाय।

विषयसूची

  • कैसे होते हैं पर्म हेयर? – What is Permed Hair in Hindi?
  • पर्म के प्रकार – Types of Perms in Hindi ?
  • कैसे करें घुंघराले बालों की देखभाल – How to Take Care of Permed Hair in Hindi
  • अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

.tocnew a#toc#toc ul#toc ul li#toc ul li a:not:first-child#toc ul li a#toc ul li > ul > li #toc ul li ul ul > li #toc ul li ul ul ul >li

कैसे होते हैं पर्म हेयर? – What is Permed Hair in Hindi?

पर्म नामक एक रसायन होता है। इसे बालों पर लगाया जाता है, जिससे हेयर शाफ्ट के बॉन्ड को अस्थाई रूप से तोड़ा जाता है, ताकि बॉन्ड का फिर से निर्माण हो सके। इससे बाल घुंघराले हो जाते हैं। इस प्रक्रिया को ही पर्म हेयर कहा जाता है।

बालों को घुंघराले बनाने के लिए आपका हेयर स्टाइलिस्ट केमिकल का इस्तेमाल करता है। इस प्रक्रिया में गर्म रोड और रोलर्स के उपयोग से बालों को कर्ल रूप दिया जाता है। फिर बालों के न्यू शेप को न्यूट्रलाइजर की मदद से स्थाई रूप दिया जाता है। एक बार पर्म कराने के बाद आपके बाल कुछ महीनों तक इसी अवस्था में रहेंगे, बर्शते आपको इनका ध्यान अच्छी तरह से रखना होता है। बाद में इन बालों को फिर से सीधा किया जा सकता है।

पर्म के प्रकार – Types of Perms in Hindi ?

बालों को घुंघराला करने की कई तरीके मौजूद हैं, लेकिन यहां बताए जा रहे दो तरीके खूबसूरत घुंघराले बाल पाने में आपके लिए ज्यादा मददगार साबित होंगे।

1- डिजिटल (हॉट) पर्म

डिजिटल या हॉट पर्म विधि में बालों को पहले एक आरामदायक उपचार के तहत गुजारा जाता है, जिसमें आपके बालों के बॉन्ड को तोड़ा जाता है। फिर, आपके बालों को गर्म कर्लिंग रॉड के साथ आकार दिया जाता है। रॉड की मोटाई इस बात पर निर्भर करती है कि आप बालों के घुंघरालेपन को कितना ढीला या टाइट करना चाहते हैं। अंत में बालों को गर्म रोलर्स में डाला जाता है, जो एक उपकरण से जुड़ा होता है। यह तापमान को नियंत्रित करने में मदद करता है।

इस प्रक्रिया में आपके बालों की लंबाई और मोटाई के आधार पर चार घंटे या उससे अधिक का समय लग सकता है। डिजिटल पर्म पद्धति से आप अलग-अलग लंबाई के घुंघराले बाल प्राप्त कर सकते हैं। इस पद्धति को विशेष रूप से पूर्वी एशियाई बालों के लिए डिजाइन किया गया था। इसलिए, यह सिर्फ मोटे बालों वाले लोगों के लिए काम करता है। ध्यान रहे कि यह विधि अन्य प्रक्रियाओं की तुलना में बालों के लिए कम हानिकारक, लेकिन महंगी है।

कोल्ड पर्म

कोल्ड पर्म बालों को पर्म करने का एक पारंपरिक तरीका है। इस प्रक्रिया में आपके बालों को पहले एक एल्कलाइन सॉल्यूशन से भिगोया जाता है। इसके बाद हेयर रोलर्स का उपयोग करके बालों को टाइट कर्ल किया जाता है। टाइट कर्ल आपके बालों को छल्लेदार आकार देने में मदद करते हैं, जो डिजिटल पर्मिंग की मदद से हासिल करना संभव नहीं है।

ये टाइट छल्लेदार आकार पहली बार में कृत्रिम लगते हैं, लेकिन समय के साथ-साथ प्राकृतिक रूप लेने लगते हैं। इस प्रक्रिया में दो से ढाई घंटे का वक्त लग सकता है। इस प्रक्रिया से प्राप्त घुंघराले बाल गीले या किसी उत्पाद का इस्तेमाल करने पर भी कर्ल ही बने रहते हैं। यह प्रक्रिया डिजिटल विधि की तुलना में अधिक सस्ती है और लगभग सभी प्रकार के बालों पर काम करती है।

बालों को पर्म करने के ये तरीके अलग-अलग सैलून में अलग-अलग नामों से जाने जा सकते हैं। बेस्ट पर्मिंग विधि निर्धारित करने के लिए आप हेयर स्टाइलिस्ट विशेषज्ञ से परामर्श लें। उन्हें बालों की जांच करने के लिए कहें और उसी के अनुसार हेयर पर्मिंग विधि का चयन करें।

कैसे करें घुंघराले बालों की देखभाल – How to Take Care of Permed Hair in Hindi

घुंघराले बाल प्राप्त करने के बाद उनका ख्याल रखना भी जरूरी है। अगर ऐसे बालों का ठीक से रखरखाव न किया जाए, तो आपके बाल अपनी संरचना खो सकते हैं। साथ ही बालों को नुकसान पहुंच सकता है, लेकिन आपको डरने की जरूरत नहीं है।

हमारे साथ जानिए आठ सबसे कारगर उपाय, जो आपके घुंघराले बालों की देखभाल करने में मदद करेंगे।

1. प्रोसेसिंग ट्रीटमेंट से पहले बालों को रखें स्वस्थ

घुंघराले बाल प्राप्त करने के लिए, आपके बालों का अच्छी स्थिति में होना जरूरी है। जो बाल स्वस्थ नहीं होते, वो प्रोसेसिंग ट्रीटमेंट झेल नहीं पाएंगे और न ही घुंघराले हो पाएंगे। इसलिए, यह महत्वपूर्ण हो जाता है कि आप घुंघराले बाल प्राप्त करने से पहले और बाद में अपने बालों की विशेष देखभाल करें। किसी भी उपचार को करने का निर्णय लेने से पहले कम से कम दो-तीन महीने तक प्रतीक्षा करें, इस बीच अपने बालों की अच्छी तरह देखभाल करें।

2. बालों को जरूरी पोषण

पर्म प्रक्रिया के दौरान बालों में प्रोटीन काफी हद तक नष्ट हो जाते हैं। ऐसा इसलिए, क्योंकि बालों में मौजूद प्रोटीन बॉन्ड ब्रेकिंग और रिफॉर्म की प्रक्रिया से गुजरते हैं और ये प्रोटीन बॉन्ड ही होते हैं, जो बालों को आकार देते हैं। इस क्षति को ठीक करने के लिए आपको कुछ आवश्यक प्रोटीन उपचारों के साथ-साथ अपने बालों को पोषण देना भी जरूरी है। आप या तो ओलाप्लेक्स के ट्रीटमेंट जैसे उत्पादों का चयन कर सकते हैं, जो बालों के बॉन्ड को फिर से बनाने और उन्हें मजबूत करने में मदद करते हैं। आप अपने खुद के घरेलू प्रोटीन हेयर पैक बना सकते हैं, जो आपके बालों को फिर से स्वास्थ होने में मदद करेंगे।

three. डीप कंडीशनिंग

एक बार जब आप बालों को घुंघराले कर लेते हैं, तो देखेंगे कि आपके बालों को हमेशा नमी की जरूरत रहेगी। इस दौरान किसी अन्य प्रकार का प्रोसेसिंग ट्रीटमेंट आपके बालों को नुकसान पहुंचा सकता है। बालों की क्षति को ठीक करने और स्वस्थ बनाए रखने का एकमात्र तरीका कंडीशनिंग है। बालों को पर्म कराने के बाद हफ्ते में दो बार डीप कंडीशनिंग करना बेहद जरूरी है। कुछ हफ्तों बाद आप चाहें तो दो की जगह एक बार कंडीशनिंग कर सकते हैं। आप पाएंगे कि यह उपचार वास्तव में काफी चिकित्सीय हो सकता है। खासतौर पर अगर आप डीप कंडीशनिंग के लिए घरेलू मास्क चुनते हैं, तो यह बजट के अनुकूल और रसायन रहित होगा।

four. सही उत्पादों का चयन

बालों को घुंघराले कराने के बाद आप उन उत्पादों का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं, जिसका इस्तेमाल आप पहले किया करते थे। अब आपको ऐसे उत्पादों की जरूर पड़ेगी, जो आपके घुंघराले बालों को स्वस्थ रखने और उन्हें नए आकार को बनाए रखने में मदद करेंगे। अगर आपने अपने बालों को पर्म कराया है, तो उन हेयर प्रोडक्ट्स का चयन करें, जो विशेष रूप से पर्म हेयर्स के लिए बने हैं। इनमें खासतौर पर कर्ली हेयर्स के लिए बनें शैंपू, कंडीशनर और स्टाइलिंग उत्पाद शामिल हैं। शैंपू चुनते समय ध्यान दें कि वो सल्फेट्स से मुक्त हो, क्योंकि यह रसायन आपके बालों की नमी को छीन सकता है, जिससे ये सूखे और क्षतिग्रस्त हो सकते हैं।

5. धोएं कम कंडीशनिंग करें ज्यादा

जैसा कि पहले भी उल्लेख किया गया है कि बालों को घुंघराले बनाने के बाद बालों को नमी की जरूरत होती है। इसलिए, बालों को कम धोएं। भले ही आपके शैंपू में सल्फेट न हो, लेकिन बालों को कम धोने से उनमें नमी बनी रहेगी। साथ ही बालों की कंडीशनिंग करना न भूलें। एक और महत्वपूर्ण बात यह कि बाल धोने के बाद तौलिये से न सुखाएं।

6. सूखाना और गांठ सुलझाना

बालों को घुंघराले कराने के बाद इनका विशेष ध्यान रखना बेहद जरूरी है। बाजार से आप लकड़ी की बनी चौड़े दांतों वाली कंघी और एक शॉफ्ट पैडल ब्रश ले आएं। बालों में कंघी करने का सबसे सरल तरीका है कि नहाने के बाद बालों को चौड़े दांतों वाली कंघी से धीरे-धीरे सुलझाने की कोशिश करें और फिर बालों को सूखने दें। जब तक बाल सूखेंगे, तब तक आप हेयर प्रोडक्ट को बालों पर लगा सकते हैं। फिर बालों के सूख जाने पर कंघी की मदद से बड़ी गांठों को बाहर निकालें और फिर पैडल ब्रश की मदद से उन्हें सुलझाएं। अगर आपके बाल घुंघराले हैं, तो उंगलियों को गील करके बालों में चलाएं, ताकि पहले से लगे हेयर प्रोडक्ट सभी बालों में फैल जाएं और कर्ली हेयर पर अपना असर दिखा सकें

7. बालों का स्टाइल

ज्यादातर महिलाएं बालों को पर्म इसलिए कराना चाहती हैं, ताकि बालों के तरह-तरह के स्टाइल बनाने में ज्यादा समय न लगान पड़े। इसका अर्थ यही निकलता है कि बालों को पर्म कराने के बाद विभिन्न प्रकार के स्टाइल बनाने में लगने वाला समय बच जाता है। उसकी जगह आप बालों की देखभाल में अपना समय बिताते हैं। इसमें हीट स्टाइलिंग टूल्स से बचना भी शामिल है। बाल घुंघराले करने के बाद हेयर इलास्टिक और ऐसे ही अन्य उत्पादों को इस्तेमाल करने का झंझट भी नहीं रहता। इसके बजाय, उन सामानों का चयन करें, जो आपके बालों पर अच्छे लगते हैं, जैसे कि बटरफ्लाई क्लिप। अगर आपके कर्ली हेयर हैं, तो कर्ल को बढ़ावा देने वाले उत्पादों का चयन करें।

8.रेग्युलर ट्रिम

उपचार के बाद भी बालों को विभिन्न तरह की क्षति होने का अंदेशा रहता है। अपने बालों को स्वस्थ रखने का एकमात्र तरीका है, हर 6-8 सप्ताह में नियमित रूप से ट्रिम कराएं, ताकि किसी भी तरह के नुकसान से बचा जा सके। भले ही आपको बाल बढ़ाने हों, लेकिन उसके लिए भी ट्रिमिंग की जरूरत पड़ती है। तय समय पर बालों को न कटवाना भी उनके स्वास्थ्य पर नकारात्मक असर डाल सकता है।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

सवाल – बालों को घुंघराला कराने में कितना समय लगता है?

जवाब – बालों को घुंघराले करने में लगने वाला समय बालों की मोटाई, लंबाई और विधि के चयन पर निर्भर करता है। यह समय दो से पांच घंटे के बीच का हो सकता है।

सवाल – पर्म करने के बाद बालों को धोने से क्या होता है ?

जवाब – बालों को पर्म करने के तुरंत बाद कम से कम 48 घंटों बाद धोना चाहिए। बालों को जल्दी धोने से कर्ल खराब हो सकते हैं।

सवाल – रूट पर्म क्या है?

जवाब – रूट पर्म मूल रूप से एक ‘टचअप’ है। यह आपके नए बालों के विकास की प्राकृतिक संरचना को बदलता है, ताकि ये प्राकृतिक दिखें।

सवाल – बाल घुंघराले कराने में कितना खर्च होता है?

जवाब – यह आपके बालों की लंबाई और मोटाई पर निर्भर करता है। अलग-अलग सैलून इसके लिए अलग-अलग चार्ज करते हैं। यह महत्वपूर्ण है कि आप सही मूल्य प्राप्त करने के लिए एक प्रसिद्ध सैलून की सेवाएं लें। सस्ते विकल्प काे न चुनें, क्योंकि इसके आपके बालों को नुकसान हो सकता है।

सवाल – बालों को घुंघराले कराने के बाद कब धोएं?

जवाब – 48 घटों बाद बालों को धो लें।

सवाल – घुंघराले बालों के लिए सबसे अच्छा शैम्पू और कंडीशनर कौन सा होता है?

जवाब – आपके बालों के प्रकार और आपके द्वारा चुनी गई शैली के आधार पर उत्पादों का चयन करें।

सवाल – क्या मैं बालों को घुंघराले करने के बाद उन्हें गीला कर सकती हूं?

जवाब – घुंघराले कराने के बाद आप 48 घंटे बाद ही इन्हें पानी से गीला करें।

सवाल – पर्म बालों में कितने समय तक रहता है?

जवाब – जब तक कि आप पूरे बालों को कटवा न लें।

सवाल – घुंघराले करने के बाद क्या बालों को कंडीशन कर सकते हैं?

जवाब – हां, कंडीशनिंग जरूर है।

सवाल – बाल घुंघराले करने के नकारात्मक प्रभाव?

जवाब – सबसे पहले, आपको यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि आपके द्वारा इस्तेमाल किए जा रहे किसी भी रसायन से आपको एलर्जी न हो। इसके अलावा, जब आप बालों को पर्म करते हैं, तो बालों का क्षतिग्रस्त होना लाजमी है। बाल घुंघराले कराने के बाद इनका सही से ध्यान रखना बेहद जरूरी है।

आशा है कि बालों को घुंघराले कराने से लेकर इनके रखरखाव के बारे में आप सब कुछ जान गए होंगे। अब आप आराम से अपने बालों को कर्ली लुक दे सकते हैं। इस बात का जरूर ध्यान रखें कि बालों को कर्ली करने तक ही आपका काम खत्म नहीं हो जाता, बल्कि इनका विशेष ध्यान रखना भी जरूरी है। यह लेख आपको कैसा लगा, हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। आप अन्य जानकारी के लिए अपने सवाल कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं।

संबंधित आलेख

The publish घुंघराले बालों की देखभाल करने के 8 सबसे कारगर उपाय – Simple And Effective Tips for Permed Hair in Hindi appeared first on TopBeautySecrets.org.

Leave a Comment